वैदिक पंचांग

पंचांग शब्द संस्कृत से लिया गया है। पंचांग दो शब्दों के मिलाप से बना है। " पंच " मतलब पांच और, "अंग " मतलब हिस्सा और ये पांच हिस्से इस प्रकार हैं : वार , तिथि , करण , योग , और नक्षत्रा। पंचांग देखने का मूल उद्देश्य है शुभ मुहूर्त देखना , शुभ समय का पता लगाना और त्योहारो की तारीख जानना।

  • पिछला दिन
  • आज का पंचांग
  • अगला दिन
Mumbai Maharashtra , India

गुरूवार, 30 मार्च 2017

यह वैदिक पंचांग दिन गुरूवार, 30 मार्च 2017 और Mumbai Maharashtra , India इस स्थान का है। सभी पंचांग गणना दृक गणित पर आधारित है, मतलब की आकाश में ग्रहो के नक्षत्रो की स्थीती के हिसाब से। इस गणना में लहरी या चित्रपक्षीय अयनांशा का उपयोग हुआ है। वर्तमान दिन के सूर्योदय का समय लेकर ग्रहो की स्थिति का आकलन किया गया है और उसके हिसाब से बाकी की गणना की गयी है।

सामान्य पंचांग विवरण

सूर्योदय

06:36:19

सूर्यास्त

18:52:46

चन्द्र उदय

08:16:23

चन्द्र अस्त

20:11:09

सूर्य राशि

मीन

चंद्रा राशि

मेष

ऋतु

वसंत

अयन

उत्तरायण

पंचांग तत्व

तिथि

Shukla Tritiya   upto   23 : 43 : 59

Note -This is also called Jaya Tithi
Deity - Vishnu
Summary - Auspicious for starting businesses, wedding and the first feed of a child.

योग

Vaidhriti   upto   11 : 7 : 36

Note - It is Inauspicious yoga,Not good for auspicious undertakings.
Meaning - (Poor Support) — critical, scheming nature; powerful and overwhelming mentally or physically.

नक्षत्रा

Ashwini   upto   9 : 24 : 50

Note - This nakshatra is also comes in Moola Nakshatra
Ruler - Ketu
Deity - Ashwini
Summary - Suitable for journeys, healing, beginning of studying, business start, education and teaching, taking medications, giving and taking loans, religious activities.

करण

Taitil   upto   13 : 15 : 8

Deity - Indra
Summary - It is suitable for Rajakarya ( government affairs) .

महीना और संवत

महीना - अमांत

चैत्रा

महीना - पूर्णिमांत

चैत्रा

शक सम्वत

1936 - जया

विक्रम सम्वत

2071 - प्लवंग

शुभ समय

अभिजीत मुहूर्त

12:20
To
01:08

योग

Notice: Undefined offset: 1 in /var/www/panchang/hindi/default.php on line 150 Notice: Undefined index: in /var/www/panchang/hindi/default.php on line 150

अशुभ समय

राहुकाल

14:16:35
To
15:48:39

गुलिक काल

09:40:25
To
11:12:29

यमघंट काल

06:36:18
To
08:08:22

निवास , दिशा शूल और उपाय

दिशा शूल

दक्षिण दिशा में

नक्षत्र शूल

Warning: Illegal offset type in /var/www/panchang/hindi/default.php on line 205 दिशा में

चन्द्र वास

पूर्व दिशा में

दिशा शूल उपाय

"जन्म पत्रिका , कुंडली मिलान ,उपाय और बहुत कुछ आपके एक क्लिक पर। सभी बिल्कुल मुफ्त। "

गूगल से लोगिन करें फेसबुक से लोगिन करें अपने ईमेल से जुड़े